आईसीटी अवसंरचना

विद्यार्थी-कंप्यूटर अनुपात जो 53 था वह 16 विद्यार्थियों का हो गया है

अक्तूबर, 2005 तक विद्यार्थी-कंप्यूटर अनुपात 53:1 था । केन्द्रीय विद्यालयों में आई.सी.टी. को बढ़ावा देने के लिए नवंबर-2005 से प्रयास जारी हैं और इसके लिए नए कंप्यूटरों की खरीद कर अतिरिक्त कंप्यूटर प्रयोगशालाएं स्थापित की गई हैं । पिछले 16 वर्षों के दौरान विद्यालयों की कंप्यूटर लैब में कम्प्यूटरों की संख्या 70,841 से बढ़कर 83,538 हो गई है । इसके परिणामस्वरूप 30.06.2022 की स्थिति के अनुसार विद्यार्थी-कंप्यूटर अनुपात जो पहले 53:1 था में सुधार होकर अब 16:1 हो गया है । केविसं में कंप्यूटर की आधारभूत संरचना को बढ़ाने और विद्यार्थियों के सर्वोत्तम हित में विद्यार्थी-कंप्यूटर अनुपात में और अधिक सुधार के लिए प्रयास किए जा रहे हैं ।

केन्द्रीय विद्यालय संगठन में 31.08.2022 तक आईसीटी सुविधा

क्र. सं. मद संख्या
1 कार्यात्मक केन्द्रीय विद्यालयों की कुल संख्या 1251
2 केन्द्रीय विद्यालयों में कंप्यूटरों की कुल संख्या 83,538
3 केन्द्रीय विद्यालयों में विद्यार्थियों की कुल संख्या 13,20,240*
4 विद्यार्थी कंप्यूटर अनुपात 16:1
5 कंप्यूटर लैब वाले केन्द्रीय विद्यालयों की संख्या 1241(99.20%)
6 इंटरनेट सुविधा वाले केन्द्रीय विद्यालयों की संख्या 1250(99.92%)
7 ब्रांडबैंड सुविधा वाले केन्द्रीय विद्यालयों की संख्या 1216(97.20%)
8 स्वयं की वेबसाइट वाले केन्द्रीय विद्यालयों की संख्या 1251(100%)
9 955 केन्द्रीय विद्यालयाओं में ई-क्लासरूम की संख्या 12347
10 265 केन्द्रीय विद्यालयाओं में अल्पसंख्यक मंत्रालय की प्रधान मंत्री जन विकास योजना के अंतर्गत कनेक्टेड क्लासरूम सॉल्यूशन का उपयोग करके वैयक्तिकृत शिक्षण
की संख्या
277
11 आधुनिक विज्ञान प्रयोगशाला से सुसज्जित केन्द्रीय विद्यालयों की संख्या 928
12 डिजिटल भाषा प्रयोगशाला की संख्या 376
* 30-06-2022 तक नामांकन की संख्या